AliShayari.in

AliShayari.in is all about Shayaris

Aukat shayari on akad, teri aukat shayari 2 lines, attitude

Todays topic is Aukat Shayari on various categories such as aukat shayari on attitude, teri aukat 2 lines in hindi, akad, teri aukat and much more. This are the latest and brand new lines to show someone where they stand in the form of meaningful words.

Aukat Shayari

 

सफर में कुछ मुश्किलें भी आयी
कुछ खुशी भी आयी
लेकिन एक वक्त ऐसा आया
के जिंदगी ने मुझे मेरी औकात देखा दी

safar me kuch mushkile bhi aayi
kuhc khushi bhi aayi
lekin ek waqt aisa aya
ke zindagi ne mujhe meri aukat dekha di

 

aukat pe shayari

 

जेब में एक फूटी कौड़ी नहीं
औकात की बात करते हैं
इतने गरीब हैं, भिक मांगते हैं
महबूबा से ताज महल बनाने की बात करते हैं

jeb me ke futi koudi nahi
aukat ki baat karte hai
itne gareeb hai, bhik maangte hai
mehbooba se taj mehal banane ki baat karte hai

 

दुनिया एक धोखा हैं
कही हम गलत न कर बैठे इसीलिए
मेरे ईमान ने मुझे रोका हैं

duniya ek dhokha hai
kahi hum galat ne kar baithe isiliye
mere imaan ne mujhe roka hai

 

aukat shayari hindi

 

आज कल लोग दोस्ती भी हैसियत देखकर करते हैं
अगर कोई छोटा आदमी मिल जाये तो औकात की बात करते हैं

aaj kal log dosti bhi haisiyat dekhkar karte hai
agar koi chota aadmi mil jaye toh aukat ki baat karte hai

 

teri aukat shayari

 

औकात के हिसाब से बात करने वालों
कभी आईने से बात कर लिया करो
कुछ शर्म आएगी
अगर शर्म न आयी तो डूब मरो

aukat ke hisab se baat karne walo
kabhi aaine se baat kar liya karo
kuch sharm ayegi
agar sharm na aayi toh doob maro

 

meri aukat shayari

 

मेरी औकात जो भी हो, मेरा ईमान ही सब कुछ हैं
दुनिया कितनी बे मान भी हो, मेरा जमीर मेरे लिए सब कुछ हैं

meri aukat jo bhi ho, mera imaan he sab kuch hai
duniya kitni bemaan bhi ho, mera zamer mere liye sab kuch hai

 

akad aukat shayari

 

अकड़ मत बच्चे तू बिगड़ जायेगा
खा मेरे जूते तू सुदर जायेगा

akad mat bacche tu begad jaayega
kha mere jute tu sudar jayega

 

attitude aukat shayari

 

तुझ जैसो को तो हम अपने पास भी आने नहीं देते
अगर पास आने की कोशिश की तो जीने नहीं देते

tujh jaiso ko toh hum apne paas bhi aane nahi dete
agar paas aane ki koshish ki toh jeene nahi dete

 

aukat wali shayari

 

हम ईमान के लिए जीते हैं
ईमान के लिए ही मरते हैं
इसीलिए सब बेईमान हम से डरते हैं

hum imaan ke liye jeete hai
imaan keliye he marte hai
isiliye sab beimaan hum se darte hai

 

aukat shayari 2 line

 

औकात, अलफ़ाज़ तेरे मुँह से अच्छा नहीं लगता
अगर तू सच भी बोले तो सच्चा नहीं लगता

aukat, alfaaz tere muh se accha nahi lagta
agar tu sach bhi bole toh saccha nahi lagta

 

aukat shayari new

 

अपनी औकात अपने जेब में रख साले
तेरे जैसे कितनों को हम ने ऐसे ही मार डाले

apni aukat apne jeb me rakh saale
tere jaise kitno ko hum ne aisi he maar daale

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AliShayari.in © 2018