kafan Shayari, status, mere kafan per shayari

sad kafan shayari

Kafan shayari

 

अपने तो मुझे दफना कर चले गए
एक बार आँख क्या बंद हुई
सब मुझे छोड़ कर चले गए
वक़्त बीत गया, सब मुझे भूल भी गए

apne toh mujhe dafana kar chale gaye
ek bar aakh kya band hui
sab mujhe chod kar chale gaye
waqt beet gaya, sab mujhe bhool bhi gaye

 

मुझे तो मेरे अपनों ने ही जीते जी मार दिया था
फिर क्यों मुझे ज़िन्दगी देकर मुझ पर उधार किया था

mujhe toh mere apno ne he jeete ji maar diya tha
fir kyo mujhe zindagi dekar mujh per udhaar kiya tha

 

best kafan shayari

लोग दुआ तो ज़ुबान से देते है
और बदवा दिल से देते है

log dua toh zubaan se dete hai
aur badwa dil se dete hai

 

मौत से पहले ही मैंने अपना कफ़न खरीद लिया क्योकि
मरने के बाद किसी पर उधर रहना नहीं चाहता हूँ मैं

mout se pehle he maine apna kafan kharid liya kyoki
marne ke bad kisi per udhar rehna nahi chahta hu mai

 

sar per kafan shayari

सर पर कफ़न बांध कर चलने वाले मौत से नहीं डरते
हमारा वसूल है के हम कभी कमज़ोरों पर कभी वॉर नहीं करते

sar per kafan baand kar chalne wale mout se nai darte
hamara wasool hai ke hum bhi kamzoro per kabhi war nahi karte

 

पेहेन लिया हम ने भी कफ़न
अब जल्दी से करदो हमें भी दफ़न

pehen liya hum ne bhi kafan
ab jaldi se kardo hame bhi dafan

 

mere kafan shayari
  • मौत से तो एक दिन ज़रूर मुलाकात होगी
    शायद वही दिन चैन की नींद मिलेगी
  • mout se toh ek din zarur mulakat hogi
    shayad wahi din chain ki neend milegi

kafan ke upar shayari

चले जाओ मुझे दफना के
मुझे तो अकेले रहने बहुत तजुर्बा है
जी कर भी क्या करू मैं
हर वक़्त मेरा ये दिल मुर्दा है

chale jao mujhe dafana ke
mujhe toh akele rehne ka bahut tajurba hai
jee kar bhi kya karu mai
her waqt mera ye dil murda hai

 

kafan wali shayari

लोग तो मौत के बाद पहने ते है कफ़न
हम ने तो मौत से पहले ही पेहेन लिया कफ़न
शायद यही सही वक़्त है
चलो मुझे भी करदो अब दफ़न

log toh mout ke bad pehen te hai kafan
hum ne toh mout se pehle he pehen liye kafan
shayad yahi sahi waqt hai
chalo mujhe bhi kardo ab dafan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *